log up log in
ncert help

NCERT Solutions, CBSE Sample paper, Latest Syllabus, NCERT Books, Last Year Question Papers and Many More ...

CBSE Video lectures for download

     

=Chapter 1 Soor Das ke Pad

=Chapter 2 Ram Lakshman Parshuram Samvad

=Chapter 3 Dev ke Saviaya aur kavitt

=Chapter 4 jai sankar prasad atmkadya

=Chapter 5 suryakant tripathi nirala utsah

=Chapter 6 yah Dandurit Muskan

=Chapter 7 Chaya Mat Chhoona

=Chapter 8 kanyadan

=Chapter 9 Sangatkar

=Chapter 10 neta ji ka Chasma

=Chapter 11 bal gobin Bhagat

=Chapter 12 lakhnavi Andaj

=Chapter 13 manveeya Karuda Kee Divya Chamak

=Chapter 14 Ek kahani Yah Bhi

=Chapter 15 Estri Virodhi Kutarko Ka Khundan

=Chapter 16 Noubat Khane Ki Ebadat

=Chapter 17 Sanskrity

 

Chapter 12 lakhnavi Andaj

Download NCERT Solutions for Class 10 Hindi

Chapter 12 lakhnavi Andaj

(Link of Pdf File is given below at the end of the Questions list)

In this pdf file you can see answers of following Questions

लखनवी अंदाज

 

प्रश्न-अभ्यास
1- लेखक को नवाब साहब के किन हाव-भावों से महसूस हुआ कि वे उनसे बातचीत करने के लिए तनिक भी उत्सुक नहीं हैं?
2- नवाब साहब ने बहुत ही यत्न से खीरा काटा, नमक-मिर्च बुरका, अंततः सूँघकर ही खिड़की से बाहर फेंक दिया। उन्होंने ऐसा क्यों किया होगा? उनका ऐसा करना उनके कैसे स्वभाव को इंगित करता है?
3- बिना विचार, घटना और पात्रें के भी क्या कहानी लिखी जा सकती है। यशपाल के इस विचार से आप कहाँ तक सहमत हैं?
4- आप इस निबंध को और क्या नाम देना चाहेंगे?

रचना और अभिव्यक्ति
5- (क) नवाब साहब द्वारा खीरा खाने की तैयारी करने का एक चित्र प्रस्तुत किया गया है। इस पूरी प्रक्रिया को अपने शब्दों में व्यक्त कीजिए।
(ख) किन-किन चीजों का रसास्वादन करने के लिए आप किस प्रकार की तैयारी करते हैं?
6- खीरे के संबंध में नवाब साहब के व्यवहार को उनकी सनक कहा जा सकता है। आपने नवाबों की और भी सनकों और शौक के बारे में पढ़ा-सुना होगा। किसी एक के बारे में लिखिए।
7- क्या सनक का कोई सकारात्मक रूप हो सकता है? यदि हाँ तो ऐसी सनकों का उल्लेख कीजिए।
भाषा-अध्ययन
8- निम्नलिखित वाक्यों में से क्रियापद छाँटकर क्रिया-भेद भी लिखिएμ
(क) एक सप् ़ शफ़ेदपोश सज्जन बहुत सुविधा से पालथी मारे बैठे थे।
(ख) नवाब साहब ने संगति के लिए उत्साह नहीं दिखाया।
(ग) ठाली बैठे, कल्पना करते रहने की पुरानी आदत है।
(घ) अकेले सप् ़ शफ़र का वक्त काटने के लिए ही खीरे खरीदे होंगे।
(घ) दोनों खीरों के सिर काटे और उन्हें गोदकर झाग निकाला।
(च) नवाब साहब ने सतृष्ण आँखों से नमक-मिर्च के संयोग से चमकती खीरे की फाँकों की ओर देखा।
(छ) नवाब साहब खीरे की तैयारी और इस्तेमाल से थककर लेट गए।
(ज) जेब से चाकू निकाला।
पाठेतर सक्रियता
‘किबला शौक फरमाएँ’, ‘आदाब-अर्ज---शौक फरमाएँगे’ जैसे कथन शिष्टाचार से जुड़े हैं। अपनी मातृभाषा के शिष्टाचार सूचक कथनों की एक सूची तैयार कीजिए।
‘खीरा---मेदे पर बोझ डाल देता है’ क्या वास्तव में खीरा अपच करता है? किसी भी खाद्य पदार्थ का पच-अपच होना कई कारणों पर निर्भर करता है। बड़ाें से बातचीत कर कारणों का पता लगाइए।
खाद्य पदार्थों के संबंध में बहुत-सी मान्यताएँ हैं जो आपके क्षेत्र में प्रचलित होंगी, उनके बारे में चर्चा कीजिए।
पतनशील सामंती वर्ग का चित्रण प्रेमचंद ने अपनी एक प्रसिद्ध कहानी ‘शतरंज के खिलाड़ी’ में किया था और फिर बाद में सत्यजीत राय ने इस पर इसी नाम से एक पि़् शफ़ल्म भी बनाई थी। यह
कहानी ढूँढ़कर पढ़िए और संभव हो तो पि़्फ़ल्म भी देखिए।

 


 



Open your video in VLC player or add '.mp4' extension at end of the video



lakhnavi Andaj Chapter 12 NCERT Solutions for Class 10 Hindi download all ncert Solution

Please Click on G-plus or Facebook
   



Please send your queries at contact ncerthelp@gmail.com

 

Every effort has been made to ensure accuracy of data on this web site. We are not responsible for any type of mistake in data.
All pdf files or link of pdf files are collected from various Resources Or sent by Students. If any pdf file have any copyright voilation please inform us we shell remove that file from our website.Thanks